टीएचडीसी के 444 MW वीपीएचईपी परियोजना ने अधिकारियों के लिए आयोजित की संकट एवं आपदा प्रबंधन की कार्यशाला

टीएचडीसी के 444 MW वीपीएचईपी परियोजना ने अधिकारियों के लिए आयोजित की संकट एवं आपदा प्रबंधन की कार्यशाला दिनांक 07.11.2023 को टीएचडीसीआईएल के 444 MW विष्णुगाड़-पीपलकोटी जल विद्युत परियोजना (वीपीएचईपी) में सुरक्षा विभाग ने एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशालाका आयोजन किया। कार्यशाला में राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद, उत्तराखण्ड चैप्टर के सुरक्षा सलाहकार श्री एसo केo भटनागर प्रशिक्षक के रूप में सामिल हुए। कार्यशाला में परियोजना के सभी विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों को वीपीएचईपी के संकट एवं आपदा प्रबंधन योजना (Crisis & Disaster Management Plan of VPHEP) के बारे में अवगत कराया एवं संकट व आपदा के समय सभी विभागों की ज़िम्मेदारियों को समझाया। इस अवसर पर अपर-महाप्रबंधक (ई०सी०&एस०) श्री एस०के० आर्या ने संबोधित करते हुए परियोजना के संकट एवं आपदा प्रबंधन योजना के महत्व को रेखांकित किया और योजना को और बेहतर बनाने के लिए सभी अधिकारियों से सुझाव भी आमंत्रित किया। वही मुख्य महाप्रबंधक (परियोजना) श्री अजय वर्मा ने कहा कि हम बहुत कठिन परिस्थिति में कार्य कर रहे हैं जहां आपदा या दुर्घटना की स्थिति कभी भी उत्पन्न हो सकती है। इसलिए हर सुरक्षा मनकों व दिशानिर्देशों का पालन करना ज़रूरी है। उन्होंने कहा कि विपरीत परिस्थिति होने के बावजूद हमें यह सुनिश्चित करना है कि परियोजना शून्य दुर्घटना के साथ संपन्न हो। इस मौके पर परियोजना के मुख्य महाप्रबंधक (परियोजना) के साथ विभागाध्यक्ष श्री के०पी० सिंह (टीबीएम&पॉवर हाउस), श्री एस०के० आर्या (ई०सी०&एस०), श्री जी०पी० बिस्ट (यांत्रिक एवं प्र०), श्री एस०बी० प्रसाद (एच.आर.&ए.), श्री अजय कुमार (जी&जी), डिप्टी कमांडेंट(सीआईएसएफ़) श्री विश्वनाथ,श्री गिरीधारीलाल (उ०मा० प्रबंधक-बांध), श्री आकाशदीप (उ०मा० प्रबंधक-नियोजन), जनसम्पर्क विभाग से वाई.एस. चौहान (उप प्रबंधक) और अविनाश कुमार (कार्यपालक प्रशिक्षु),आदि अधिकारी उपस्थित थे।

Updated on : 08/11/2023