विष्णुगाड़ पीपलकोटी जल विद्युत परियोजना के मुख्य बांध के कंक्रीट कार्य का हुआ शुभारंभ, वीपीएचईपी टीबीएम ने एक दिन में 24 मीटर की सुरंग खोद रचा नया कृतिमान

राष्ट्र की महत्वाकांक्षी – टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड के 444 MW की विष्णुगाड़ पीपलकोटी जल विद्युत परियोजना ने आज एक नया कार्य शुरू किया है जो कि परियोजना के निर्माण में एक मील का पत्थर का साबित होगा। वीपीएचईपी के परियोजना प्रमुख श्री अजय वर्मा ने टीएचडीसीआईएल के माननीय अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक महोदय श्री आर. के. विश्नोई जी से वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के माध्यम से अनुमति लेकर मुख्य बांध के ब्लॉक एक में कंक्रीट के कार्य का शुभारंभ किया।
इस मौक़ें पर दूरभाष के माध्यम से निदेशक वित्त श्री जे. बेहरा, निदेशक तकनीकी श्री भूपेन्द्र गुप्ता एवं निदेशक कार्मिक श्री शैलेंद्र सिंह के अलावा एचसीसी कंपनी के सीईओ श्री जसप्रित सिंह भूल्लर एवं परियोजना प्रबंधक श्री सजित कुमार जे. भी उपस्थित थे।
कार्य का शुभारंभ करने के पश्चात अपने संबोधन में श्री विश्नोई ने इस परियोजना के उक्त उपलब्धियों पर वीपीएचईपी के सभी अधिकारी एवं कर्मचारियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि जल विद्युत परियोजना में मुख्य बांध के कंक्रीट का कार्य शुरू होना एक बड़ी उपलब्धि है। तमाम समस्याओं से सफलतापूर्वक निपटते हुए आज वीपीएचईपी परियोजना का निर्माण कार्य अपनी पूरी तेज़ी से आगे बढ़ रहा है। परियोजना निर्माण में लगे टीबीएम ने एक नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया है। जो न सिर्फ़ टीएचडीसी के लिये बल्कि पूरे राष्ट्र के लिए यह गौरव की बात है। परियोजना पर कार्यत टीबीएम मशीन द्वारा 9.86 मीटर व्यास की सुरंग (टनल) का 24 मीटर खुदाई कर हिमालयन जल विद्युत क्षेत्र में राष्ट्रीय उपलब्धि हासिल की है। इसके लिए वीपीएचईपी के सभी अधिकारी, कर्मचारी एवं कांट्रेक्टर बधाई के पात्र हैं जो रात-दिन एक करके राष्ट्र की इस महत्वाकांक्षी परियोजना को सफल बनाने में लगे हैं।
इसके अलावा इस मौक़ें पर निदेशक तकनीकी श्री भूपेन्द्र गुप्ता ने भी वीपीएचईपी की पूरी टीम को इन उपलब्धियों के लिए बधाई दी। उन्होंने ने कहा कि अगर इसी तेज़ी से परियोजना प्रगति करता रहा तो हम तय समय-सीमा से पहले ही वीपीएचईपी को राष्ट्र को समर्पित कर पायेंगे।
कार्यक्रम के अंत में श्री अजय वर्मा ने टीएचडीसी परिवार के मुखिया और माननीय अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक महोदय श्री आर. के. विश्नोई जी व निदेशक वित्त श्री जे. बेहरा, निदेशक तकनीकी श्री भूपेन्द्र गुप्ता एवं निदेशक कार्मिक श्री शैलेंद्र सिंह जी को सतत मार्गदर्शन एवं सहयोग के लिए परियोजना परिवार के तरफ़ से आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि हम तय समय सीमा के अंदर ही मुख्य बांध का कार्य पूर्ण करेंगे।
परियोजना के इस विशेष अवसर पर श्री पी.एस. रावत (अपर महाप्रबंधक, बांध), श्री के.पी. सिंह (अपर महाप्रबंधक, टीबीएम एवं पॉवर हाउस) समेत परियोजना के सभी विभागाध्यक्ष उपस्थित थे।
ज्ञात हो कि 444 MW की विष्णुगाड़ पीपलकोटी जल विद्युत परियोजना एक रन-ऑफ़-द-रिवर परियोजना है। यह परियोजना उत्तराखण्ड राज्य के चमोली ज़िले में स्थित है। इसमें अलकनंदा नदी पर 65 मीटर ऊँचें कंक्रीट के बांध के निर्माण की परिकल्पना की गई है, जो 237 मीटर के सकल शीर्ष का उपयोग करता है। यह 1657 मिलियन यूनिट विद्धुत उत्पन्न करेगा। परियोजना के सभी प्रमुख संरचनाओं जैसे पॉवर हाउस, ट्रांसफार्मर हॉल, बांध, टीआरटी क्षेत्र पर सिविल कार्य तीव्र गति से अग्रसर है। इसी क्रम में आज मुख्य बांध के ब्लॉक संख्या-01 में कंक्रीट का कार्य प्रारंभ किया गया।

Updated on : 22/01/2024